Home समाचार सगाई तौड़ने की सजा मौत, गला रेंत कर की हत्या

सगाई तौड़ने की सजा मौत, गला रेंत कर की हत्या

Author

Date

Category

यह दिल दहला देने वाली घटना इंदौर की है। दरअसल आरएनटी मार्ग स्थित कारपोरेट हाउस में मंगलवार रात पूर्व मंगेतर ने साथ काम करने वाली एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर लड़की की गला रेतकर कर हत्या कर दी गयी। यहां दूसरी मंजिल पर स्थित ऑफिस के पास रोशनी (26) अग्रवाल रहती थी, यहीं पर आरोपी रौनक दुबे ने युवती पर चाकू से कई वार कर उसकी हत्या कर दी।


घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी रौनक दूसरी मंजिल से कूद कर भाग गया। शोर होने पर आरोपी हड़बड़ा गया और खिड़की से पार्किंग एरिया में कूद गया। कूदने पर ऐसी वो ऐसी के कम्प्रेशन से टकरा गया तथा नेट भी बंद हो गया जिससे ऑफिस के लोग बाहर आ गए। इसके बाद पार्किंग एरिया में खड़ी अपनी बाइक से आरोपी फरार हो गया। युवती के साथियों ने उसे वारदात के बाद अस्पताल पहुंचाया जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

इनो आई टेक्नोलॉजी में टेस्टिंग इंजीनियर के तौर पर काम करने वाली छब्बीस वर्षीय रोशनी की हत्या उसके ही मंगेतर रौनक दुबे ने की जिसके बाद फ्लोर पर हल्ला मचने के बाद पकड़े जाने के डर से हड़बड़ा कर दूसरी मंजिल की विंडो से पार्किंग एरिया में कूद गया।


दरअसल घटना से पहले दोनों ऑफिस के पास स्थित कॉरिडोर की मुख्य विंडो के पास खड़े होकर बातचीत कर रहे थे। मगर इसी दौरान इनके बीच में बहस होने लगी विवाद इतना बढ़ गया कि आरोपी रौनक ने युवती का गला रेंत दिया।

बिल्डिंग में गार्ड की नौकरी करने वाले विजय तिवारी के अनुसार, वारदात के वक्त वे मेन गेट पर बैठे थे, तभी कॉरिडोर से किसी से गिरने की आवाज आई। आरोपी भागते आया और अपनी गाड़ी तक पहुंचा। वे कुछ समझ पाते इतने में ही आरोपी रौनक के दफ्तर से कुछ लोग आ पहुंचे वो उनसे बात करने लगा और अंत में वो वहां से भाग निकला। बाद में उन्हें पता चला कि जो गाड़ी से गया उसी ने ही अपनी मंगेतर की हत्या की है।

हत्या के बाद रात करीब पौने ग्यारह बजे यानी घटना के पौने दो घंटे बाद सीएसपी संयोगितागंज ज्योति उमठ घटनास्थल पर पहुंचीं। जिस समय वारदात स्थल पर पुलिस पहुंची कंपनी के कर्मचारी दफ्तर का शटर बंद कर जाने की तैयारी में थे। उन्होंने सभी से घटना के बारे में पूछताछ की। इसके बाद कर्मचारी उन्हें दूसरे फ्लोर स्थित कंपनी के समीप कॉरिडोर पर ले गए। छोटी ग्वालटोली थाने के जवानों ने सीएसपी को बताया कि घटना स्थल से चाकू बरामद किया है।

यह था पूरा मामला

युवती के मौसा प्रवीण दादू ने मीडिया को बताया कि रौनक भी रोशनी के साथ कंपनी में करीब ढाई साल से बिजनेस एनालिस्ट की प्रोफाइल पर है। यहीं दोनों की मुलाकात हुई और दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे। इस रिश्ते से उनके परिवार वाले भी सहमत थे और उनकी सबकी मर्जी से सगाई भी हो गयी थी। सगाई के बाद पता चला, रौनक तीन साल के लिए विदेश में नौकरी के लिए जाने वाला है। रोशनी के घर वालों की चाहत थी कि वह भी शादी कर रौनक के साथ विदेश चली जाए, मगर रौनक को यह बात मंजूर नहीं थी। वो चाहता था रोशनी शादी के बाद ससुराल में उसके माता-पिता के साथ रहे। मगर जब बात नहीं बनी तो उन्होंने सगाई तोड़ दी। सगाई टूटने के बाद भी दोनों दोस्त की तरह एक दूसरे से बात करते रहे।

रौनक के इस कदम से परिवार दुखी और काफी गुस्से में हैं। सूचना मिलने पर रोशनी के पिता ओमप्रकाश, मां मंजू व अन्य सदस्य एमवायएच पहुंचे। मौत का पता चलने पर बदहवास होकर रोने लगे। मामा ने बताया रोशनी पढऩे में होशियार थी। उसके पिता पान मसाले के व्यापारी हैं। बड़ी बहन की शादी हो चुकी है। सीएसपी ने जांच के दौरान कंपनी कर्मचारियों से आरोपी का मोबाइल नंबर सहित कई जानकारी जुटाई। सीसीटीवी फुटेज व उसके मोबाइल लोकेशन के आधार पर रौनक की तलाश जारी है।

Latest posts